central secretariat functions

posted in: Uncategorized | 0

मंत्रालय/विभाग/क्षेत्रीय अभिकरणों की संगठनात्मक क्षमता और कार्यकुशलता बढ़ाने के उपाय करना तथा, 10. 1983 – 1985 University assistant at the Institute of Public Law, Political Science and Public Administration at the University of Graz. भारत सरकार में सचिव की भूमिकाएं निम्नलिखित हैं: (i) वह मंत्रालय/विभाग का प्रशासनिक प्रमुख होता है । इस संदर्भ में उसकी जिम्मेदारियों पूर्ण और अविभाजित हैं ।, (ii) वह नीतिगत और प्रशासनिक मामलों के सभी पहलुओं पर मंत्री का प्रमुख सलाहकार होता है ।, (iii) वह, संसदीय लोक लेखा समिति के समक्ष अपने मंत्रालय/विभाग का प्रतिनिधित्व करता है ।, सरकार की मशीनरी (तंत्र) के पुनर्गठन से संबंधित गोपालास्वामी आयंगर रिपोर्ट, (1949) में बताया गया है कि ”सचिव को फाइलों के दैनिक निपटान में नहीं लगा रहना चाहिए अपितु उसे पूरे परिदृश्य को ध्यान में रखते हुए अपने प्रभार से संबद्ध सरकारी समस्यायों का आकलन कर कार्य योजना बनानी चाहिए ।”, भारत सरकार की मशीनरी और कार्यपद्धति से संबंधित प्रशासनिक सुधार आयोग की रिपोर्ट (1968) के अनुसार सचिव की भूमिका – ”एक समन्वयक, नीति निर्देशक, समीक्षक और मूल्यांकनकर्ता की होनी चाहिए ।”, अपर सचिव किसी विभाग अथवा विभाग के किसी स्कंध (विंग) का प्रभारी होता है । दूसरी ओर संयुक्त सचिव किसी विभाग के स्कंध का प्रभारी होता है । संयुक्त सचिव का दर्जा और वेतन अपर सचिव से कम होता है क्योंकि अपर सचिव संयुक्त सचिव से वरिष्ठ होता है ।, कुल मिलाकर इन दोनों अधिकारियों के कार्यों में अपर सचिव यदि किसी विभाग का प्रभारी नहीं है तो कोई अधिक अंतर नहीं है । केंद्र सरकार के पुनर्गठन पर रिचर्ड टोटनहम की रिपोर्ट (1945) में यह उल्लेख है कि ”अपर सचिवों और संयुक्त सचिवों को न ही सस्ता सचिव और न ही अधिक खर्चीला उपसचिव होना चाहिए ।”, निदेशक का पद वर्ष 1960 में सृजित हुआ था । एस. The functions of the office can be carried out automatically through cases sent to office without specific directions. Since each policy is based on a body of data, the secretariat is a … मंत्रालय की संरचना (Structure of Ministry) 3. वह निष्पादन विभाग पर नियंत्रण रखने में मंत्री की मदद करता है ।, ”सरकार तंत्र” के पुनर्गठन से संबंधित गोपालस्वामी आयंगर रिपोर्ट (1949) में कहा गया है कि- “सचिव को फाइलों के दैनिक निपटान में नहीं लगा रहना चाहिए अपितु उसे पूरे परिदृश्य को ध्यान में रखते हुए अपने प्रभार से संबंद्ध सरकारी समस्याओं का आकलन कर कार्य योजना बनानी चाहिए ।”, भारत सरकार की मशीनरी और कार्यपद्धति से संबंधित प्रशासनिक सुधार आयोग की रिपोर्ट (1968) के अनुसार सचिव की भूमिका, ”एक समन्वय, नीति निर्देशक, समीक्षक और मूल्यांकन कर्ता की होनी चाहिए ।”, जब मंत्रालय में एक से अधिक विभाग होते हैं, तो सामान्यतया उसके लिये अतिरिक्त सचिव रखा जाता है । यह सचिव की तुलना में मामूली ही कम दर्जे का होता है । कभी-कभी इसे विभाग के ”स्कंध” के प्रभारी के रूप में भी रखा जाता है ।, यह अपर सचिव से दर्जे और वेतन में नीचा होता है । यह सामान्य रूप से स्कंध का प्रभारी होता है और अपर सचिव भी यदि किसी स्कंध का प्रभारी है तो दोनों के स्तर में अंतर अल्प रह जाता है ।, केन्द्र सरकार के पुनर्गठन पर रिचर्ड टोटनहम की रिपोर्ट (1945) में यह उल्लेख है कि- ”अपर सचिवों और संयुक्त सचिवों को न ही सस्ता सचिव और न ही अधिक खर्चीला उपसचिव होना चाहिए ।”, प्रभाग के प्रभारी के रूप में उपसचिव अपने प्रभाग से संबंधित समस्त कार्यों को स्वयं निपटाता है । वह सचिव की और से ये कार्य करता है । उसे अपने ऊपर के अधिकारियों से मार्गदर्शन मिलता रहता है ।, 1960 में निदेशक का पद भी प्रभाग के प्रभारी के रूप में सृजित हुआ था । लेकिन अधिकांशतया उप सचिव ही प्रभाग-प्रभारी होता है । निदेशक का पद और वेतन उपसचिव से अधि होता है ।, यह शाखा प्रभारी होता है और सचिवालय के कार्यों, आदेशों निर्देशों को कार्यकारी रूप देता है । स्वतंत्रता पूर्व इसके नीचे सहायक सचिव का भी पद होता था जिसे मैक्सवेल समिति (1937) की अनुशंसा पर समाप्त कर दिया गया ।, सामान्यतया मंत्री की सहायतार्थ विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी भी कभी-कभी नियुक्त किये जाते हैं । इसका उद्देश्य उन कार्यों पर विशेष ध्यान देना है जो अति आवश्यक महत्व के होते हैं । यह एक अस्थायी पद है और इस पर नियुक्ति के लिये कोई निर्धारित मापदंड भी नहीं है ।, अत: अनुभाग अधिकारी से लेकर सचिव स्तर तक के व्यक्ति इस पद पर नियुक्त किये जाते रहे है । छ.ग. केंद्र सरकार का अर्थ (Meaning of Central Secretariat): केंद्रीय सचिवालय में केंद्र सरकार के सभी मंत्रालय और विभाग शामिल हैं । अर्थात प्रशासन की दृष्टि से केंद्र सरकार विभिन्न मंत्रालय और विभागों में विभक्त है । केंद्रीय सचिवालय ऐसे सभी मंत्रालयों और विभागों की समष्टि है । एक मंत्रालय में सामान्यतः दो से चार विभाग होते हैं, किंतु किसी-किसी मंत्रालय में कोई विभाग नहीं होता जैसे-विदेश मंत्रालय ।, इसी प्रकार कुछ ऐसे विभाग भी हैं जिन्हें किसी मंत्रालय के अधीन नहीं रखा गया है जैसे महासागर विकास विभाग । मंत्रालयों और विभागों के राजनीतिक प्रमुख मंत्रीगण तथा प्रशासनिक प्रमुख सचिवगण होते हैं ।, भारत के संविधान के अनुच्छेद 77 में केंद्र सरकार के कामकाज को अधिक सुविधाजनक और इन कार्यों को मंत्रियों को सौंपने संबंधी नियम बनाने का अधिकार भारत के राष्ट्रपति को दिया गया है । यह विभाग विभाजन प्रणाली का आधार है । इसकी विशेषता यह है कि मंत्री को मंत्रालया/विभाग का प्रभारी बनाया जाता है जो राष्ट्रपति की ओर से आदेश जारी करता है ।, इस प्रकार मंत्रालय/विभाग की धारणा का सूत्रपात विभाग-विभाजन (पोर्टफोलियो) प्रणाली से हुआ है । ‘एलोकेशन ऑफ बिजुनेस रूल्स’ (कार्य आबंटन के नियम) में निर्दिष्ट मंत्रालयों/विभागों के समूह को केंद्रीय सचिवालय के रूप में जाना जाता है । वर्तमान में केंद्र सरकार के मंत्रालय/विभाग भारत सरकार (कार्यों का बँटवारा) नियमावली 1961 से शासित हैं ।. तीसरा स्तर निष्पादन विभाग (मंत्रालय विभाग नहीं) का होता है । ये नीति क्रियान्वयन का स्तर है । इसका प्रमुख निदेशक, महानिदेशक, संचालक, आयुक्त, महानिरीक्षक, मुख्य नियंत्रक जैसे विविध नामों से जाना जाता है ।. के तहत राष्ट्रपति को सरकारी कामकाज की सुविधा और इनकों मंत्रियों को सौंपने संबंधी नियम आदि बनाने का अधिकार दिया गया है । अत: मंत्री वस्तुत: कार्यपालिका (राष्ट्रपति/मंत्रिपरिषद) की तरफ से विभाग मंत्रालय का काम देखने वाले प्रभारी होते हैं । वे राष्ट्रपति की और से ही आदेश जारी करते है ।. दूसरा स्तर मध्य स्तर है और इसीलिये नीति निर्माण और क्रियान्वयन दोनों में उसकी समन्वयकारी भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है । यह प्रशासनिक स्तर है, न कि राजनीतिक । अत: यह नीति निर्माण का नहीं अपितु नीति परामर्श का केन्द्र है । इसको सचिवालय कहा जाता है जिसका प्रमुख सचिव होता है ।, सचिवालय सचिवों के संयुक्त कार्यालय का बोध कराने वाली एक अवधारणा है । प्रत्येक मंत्रालय (या विभाग) का एक सचिव होता है । ये विभाग निष्पादन विभाग से भिन्न होते हैं । और उप स्तर होते हैं- प्रथम उच्च अधिकारी स्तर और दूसरा अधीनस्थ कर्मचारी स्तर ।, उच्च स्तर पर सचिव, अति सचिव, संयुक्त सचिव, उपसचिव, अवर सचिव जैसे अधिकारी होते हैं जबकि अधीनस्थ स्तर वस्तुत: सचिवों के सचिवालय के भीतर स्थित कार्मिकों का कार्यालय है जहां अनुभाग अधिकारी, लिपिक आदि कर्मचारी काम करते हैं ।, 3. मंत्री को उसके संसदीय उत्तरदायित्वों को पूरा करने में सहायता देना ।, उपरोक्त कार्यों से यह स्पष्ट होता है कि केन्द्रीय सचिवालय मंत्रालय या विभाग का एक भाग है और राजनैतिक नेतृत्व के अधीन कार्य करता है । एक विभाग का सचिव अपने विभागीय मामलों को निपटाते समय अन्य ऐसे विभागों से मंत्रालयों से भी सलाह-मशवरा करते हैं जो उस मामले से संबंधित है । इस प्रक्रिया से विभाग का सचिव एक मंत्री का सचिव न रहकर भारत सरकार का सचिव बन जाता है, और यही वास्तविकता है ।, प्रशासनिक सुधार आयोग ने ”भारत सरकार की मशीनरी और इसकी कार्य पद्धति” विषय पर रिपोर्ट (1968) में सचिवालय की महत्ता के बारे में ठीक ही कहा है- ”सचिवालय कार्यप्रणाली से प्रशासन को संतुलन और स्थायित्व प्राप्त हुआ है तथा इसने मंत्रालय के पूरे तंत्र के लिये केंद्रक का कार्य किया है । इसके फलस्वरूप मंत्री स्तर पर संसद के प्रति जवाबदेही और मंत्रालयों के मध्य तालमेल बनाए रखा जा सका है ।”, यह अपने मंत्रालय या विभाग का प्रशासनिक अध्यक्ष होता है और इस रूप में उसके कार्य ”पूर्ण” होते हैं ।, i. मंत्रालय की संरचना (Structure of a Ministry) 3. Notre accueil téléphonique est ouvert du lundi au vendredi de 8h30 à 19h30 sans interruption. सचिव के सहायतार्थ संयुक्त सचिव, उपसचिव, अवर सचिव और अन्य कर्मचारी होते हैं । इस प्रकार, सचिवालय-संगठन में दो विशेष घटक-अधिकारी और कार्यालय; कर्मचारियों को निर्देशित और नियंत्रित करने के लिए तथा लिपिकीय कार्य को निष्पादित करने के लिए होते हैं, (iii) विभाग-प्रमुख की अध्यक्षता में कार्यकारी संगठन होता है । इन विभाग प्रमुखों को विभिन्न पदनामों जैसे-निदेशक, महानिदेशक, आयुक्त, महानिरीक्षक, मुख्यनियंत्रक आदि के नाम से जाना जाता है ।, प्रत्येक मंत्रालय मुख्यतया विभागों में बंटा होता है । प्रत्येक विभाग स्कंधों में प्रत्येक स्कंध प्रभागों में तथा प्रभाग शाखाओं में बेटे होते हैं । प्रत्येक शाखा अनुभागों में बेटी होती है । अनुभाग (जिसे कार्यालय कहते हैं) किसी मंत्रालय/विभाग का सबसे छोटी और सबसे निचले स्तर की इकाई है ।, भारत में सचिवालय प्रणाली नीति-निर्धारण कार्य को नीति कार्यान्वयन कार्य से अलग रखने के सिद्धांत पर आधारित है । विभाजन की इस प्रणाली में सचिवालय को केवल नीति निर्धारण कार्य तक सीमित रखा गया है और इस प्रकार सचिवालय नीति के कार्यान्वयन कार्य में दखल नहीं दे सकता ।, नीति को कार्यरूप दिए जाने का कार्य सचिवालय के बाहर की कार्यपालक एजेंसियों पर छोड़ दिया जाना चाहिए । विपाटन प्रणाली के प्रशासनिक प्रयोजन के उद्देश्यों का उल्लेख एल.एस. Various functions in the provincial government of Styria. Additionally, it establishes that SIECA has the capacity to make proposals on economic integration topics. क्षेत्रीय कार्यक्रम और योजना तैयार करना ।, 4. मंत्रालय केंद्र का हो या राज्य का एक त्रिस्तरीय संरचना होती है: 1. इस संदर्भ में प्रशासनिक जांच समिति (1948) का रिपोर्ट में कहा गया था: ”सरकारी संगठन में सचिवालय के अस्तित्व का सूत्रपात नीतिगत विषयों’प्रश्नों को वर्तमान प्रशासन से अलग करने की आवश्यकता के तथ्य से हुआ है ताकि नीतिगत विषयों को पूर्णतया किसी ऐसी अलग एजेंसी को सौंप दिया जाए जिसे कार्यपालन के क्षेत्र में कुछ हद तक आजादी प्राप्त हो ।”, (i) इससे सचिवालय कर्मी (नीति निर्माता) को नीति नियोजन कार्य में राष्ट्रीय हित लक्ष्यों और अपेक्षाओं के संबंध में सहायता मिलती है । ऐसा इसलिए है कि वे दिन-प्रतिदिन की प्रशासनिक जिम्मेदारियों से मुक्त हैं ।, (ii) इस प्रणाली की सहायता से सचिव उन प्रस्तावों की जाँच सरकार के विस्तृत दृष्टिकोण को ध्यान में रखते हुए निष्पक्ष रूप से कर सकता है जिन्हें कार्यपालक एजेंसियों ने तैयार किया है । ऐसा इसलिए है कि सचिव समग्र रूप से सरकार का सचिव होता है न कि मंत्री मात्र का सचिव ।, (iii) इस प्रणाली से कार्यपालक एजेंसियों को नीतियों को कार्यान्वित करने की आजादी मिलती है क्योंकि इस प्रणाली के तहत सचिव को नीति कार्यान्वयन के कार्य में दखल नहीं देना होता अपितु स्वयं को नीति निर्माण कार्य तक ही सीमित रखना होता है । इस प्रकार, यह प्रणाली प्राधिकारों के विशिष्टीकरण और प्रत्यायोजन को प्रोत्साहित करती है तथा अति विकेंद्रीयकरण को दूर रखती है ।, (iv) इस प्रणाली के द्वारा कार्यों का बंटवारा दो अलग-अलग एजेंसियों में करके सचिवालय के आकार को प्रबंधन की दृष्टि से छोटा करने में मदद मिलती है ।, (v) कार्यक्षेत्र में कार्यक्रम कार्यान्वयन का निष्पक्ष मूल्यांकन सचिवालय कर्मियों द्वारा किया जा सकता है । इस कार्य की जिम्मेदारी कार्यक्रम कार्यान्वयन एजेंसियों को नहीं सौंपी जा सकती । इस संदर्भ में भारतीय सचिवालय का मॉडल ब्रिटिश व्हाइटहॉल के मॉडल से भिन्न है । ब्रिटेन में हर मंत्रालय नीति निर्माण और नीति कार्यान्वयन दोनों के लिए उत्तरदायी है ।, अवस्थी बंधुओं के अनुसार – ”भारत में सचिवालय को अद्वितीय कहा जा सकता है । यद्यपि भारतीय सचिवालय ने ब्रिटेन के व्हाइटहॉल के मॉडल को अपनाया है किंतु यह ब्रिटेन के सचिवालय का वास्तविक रूप नहीं ले सका है । भारत में दो समानांतर पदक्रम हैं- एक सचिवालय में तथा दूसरा कार्यपालक विभागों के प्रमुख के अंतर्गत किंतु ब्रिटेन में ऐसी भिन्नता नहीं है जहां मंत्रालय को ही नीति निर्धारण और नीति कार्यान्वयन का कार्य सौंपा गया है ।”, सचिवालय कार्मिक एजेंसी है । इसका कार्य भारत सरकार को उसकी जिम्मेदारियों और कर्तव्यों के निर्वहन में सहयोग और सहायता करना है । यह सरकार के लिए सूचना के भंडार स्वरूप है जो विगत की कार्यवाहीयों और कार्यों के प्रकाश में भावी नीतियों उभरती समस्याओं और वर्तमान कार्यकलापों के जाँच कार्य में सरकार की सहायता करता है । किसी विषय पर सरकारी स्तर पर लिए जाने वाले निर्णय से पहले विषय की विस्तृत जांच परख का काम सचिवालय द्वारा किया जाता है ।. कार्यकाल प्रणाली के समर्थन में निम्नलिखित तर्क प्रस्तुत किए गए हैं: (i) इस प्रणाली द्वारा केंद्र और राज्यों के बीच प्रशासनिक तालमेल बनाए रखा जा सकता है और इस प्रकार भारतीय संघीय शासनतंत्र को मजबूती प्रदान की जा सकती है ।, (ii) इस प्रणाली के द्वारा केंद्रीय सचिवालय में उन अधिकारियों की नियुक्ति की जा सकती है जिन्हें जिला प्रशासन या क्षेत्र प्रशासन का ही अनुभव प्राप्त होता है ।, (iii) इससे राज्य सरकार के अधिकारियों को राष्ट्रीय स्तर पर बेहतर अनुभव मिलता है ।, (iv) इससे उन सभी अधिकारियों को समान अवसर प्राप्त होता है जो सचिवालय में निर्धारित अवधि तक तैनात रहने के अधिकारी हैं ।, (v) इससे राष्ट्र की प्रशासनिक एकता तथा लोकसेवा की स्वतंत्रता की रक्षा होगी ।, परंतु कार्यकाल प्रणाली से ‘कार्यालय अभिमुख प्रशासन’ और ‘अति-नौकरशाहीकरण’ का सूत्रपात हुआ है । सचिवालय में तैनात नया अधिकारी कार्य निष्पादन के लिए स्थायी शासकीय व्यवस्था पर निर्भर रहता है ।, आज कार्यकाल प्रणाली की स्थिति उतनी मजबूत नहीं है जितनी स्वतंत्रता प्राप्ति से पहले थी ।. Management closely monitors and controls all information released by the secretariat staff. सचिवालय के कार्यालय कर्मचारियों में निम्नलिखित कार्मिक शामिल हैं: अनुभाग अधिकारी कार्यालय/अनुभाग का प्रमुख होता है तथा अनुभाग के सभी कार्मिकों और अवर सचिव के मध्य संपर्क बनाए रखता है । अनुभाग अधिकारी का मुख्य कार्य अपने अनुभाग के कार्मिकों के कार्य का पर्यवेक्षण करना है । अनुभाग अधिकारी सचिवालय कार्मिक के पदक्रम की दृष्टि सेपहली पंक्ति का पर्यवेक्षक है।. केंद्र सरकार – कार्यकाल प्रणाली (Central Secretariat … शासकीय पुस्तिका के अनुसार सचिवालय द्वारा मंत्रालयों/विभागों से जुड़े निम्नलिखित कार्य किए जाते हैं: (i) मंत्री को नीति निर्धारण करने तथा समय-समय पर आवश्यकतानुसार उसमें संशोधन करने में मदद करना; (iii) क्षेत्रीय नियोजन और कार्यक्रम निरूपण; (iv) (क) मंत्रालयाविभाग के कार्यों से संबंधित व्यय का बजटीय प्रावधान और नियंत्रण; और (ख) संचलनात्मक कार्यक्रमों और योजनाओं और उनमें संशोधन से संबंधित प्रशासनिक और वित्तीय अनुमोदन देना अथवा लेना; (v) कार्यपालक विभागों या अर्ध-स्वायत्त कार्यक्षेत्रीय एजेंसियों द्वारा नीतियों और कार्यक्रमों के संचालन का पर्यवेक्षण और परिणामों का मूल्यांकन; (vi) नीतियों की व्याख्या और उनके बीच समन्वय स्थापित करना सरकार की अन्य शाखाओं की सहायता करना तथा राज्य प्रशासन से संपर्क बनाए रखना; (vii) मंत्रालय/विभाग और इसकी कार्यपालक एजेंसियों दोनों में कार्मिक और सांगठनिक सक्षमता विकसित करने के उपाय करना; और, (viii) मंत्री को संसदीय जिम्मेदारियों के निर्वहन में सहायता प्रदान करना ।, प्रशासनिक सुधार आयोग ने ‘भारत सरकार की मशीनरी और इसकी कार्य पद्धति’ विषय से संबंधित अपनी रिपोर्ट 1968 में सचिवालय की महत्ता के बारे में ठीक ही कहा है – “सचिवालय कार्यप्रणाली से प्रशासन को संतुलन और स्थायित्व प्राप्त हुआ है तथा इसने मंत्रालय के पूरे तंत्र के लिए केंद्रक का कार्य किया है । इसके फलस्वरूप मंत्री स्तर पर संसद के प्रति जवाबदेही और मंत्रालयों के मध्य तालमेल बनाए रखा जा सका है क्योंकि एक सांस्थानिक प्रणाली के रूप में सरकार द्वारा कार्य को ठीक ढंग से निष्पादित किया जाना अनिवार्य है ।”, एस.आर महेश्वरी के अनुसार – “सचिवालय में उन पदो को श्रेष्ठ माना गया है जो अधिकारियों द्वारा बनाए गए नियमानुसार राज्यों (और कुछ केंद्रीय सेवाओं) से कुछ विशिष्ट समय के लिए आते हैं तथा अपने ‘कार्यकाल’ की समाप्ति पर संबद्ध राज्यों या सेवाओं में वापिस चले जाते हैं । सरकारी शब्दावली में इसे कार्यकाल प्रणाली कहते हैं ।”, इस प्रकार, कार्यकाल प्रणाली के अंतर्गत प्रतिनियुक्त प्रत्येक कर्मचारी/अधिकारी केंद्रीय सचिवालय में निर्धारित अवधि के लिए कार्य करता है जिनका सचिवालय में अलग-अलग पदक्रम होता है ।, भारत में ‘कार्यकाल प्रणाली’ की शुरूआत वर्ष 1905 में भारत के तत्कालीन गवर्नर जनरल लॉर्ड कर्जन द्वारा की गई थी । लॉर्ड कर्जन का मानना था कि ”भारत पर शिमला या कोलकाता से शासन किया जा सकता है किंतु प्रशासन मैदानों से किया जाता है ।”, लॉर्ड कर्जन के इसी विश्वास ‘जिसे कार्यकाल प्रणाली का जनक भी कहते हैं’ के फलस्वरूप ही कार्यकाल प्रणाली की शुरूआत हुई थी ।. ADVERTISEMENTS: (3) The procedural revisions in terms of revised goals. Before independence the Viceroy’s executive council used to perform the functions of distributing and setting various executive activities to be performed by different departments of the government. प्रथम स्तर राजनीतिक है । इसीलिये सर्वोच्च है । इस तल पर मंत्रालय का राजनीतिक अध्यक्ष होता है जिसे मंत्री कहते हैं । ये भी तीन स्तर के होते है- कैबीनेट मंत्री, राज्य मंत्री और उपमंत्री । कभी-कभी संसदीय सचिव जैसा चौथा स्तर भी रखा जाता है । संसदीय सचिव भी किसी विभाग में कैबिनेट मंत्री नहीं रखते हैं और राज्यमंत्री को ही स्वतंत्र प्रभार में मंत्रालय सौंप दिया जाता है ।, 2. सचिवालय के कर्मचारी वर्ग के कार्मिक निम्नलिखित दोनों सेवाओं से आते हैं: 1. Executive Group Management and a few central functions. माहेश्वरी ने ठीक कहा है कि ”निदेशक और उपसचिव की जिम्मेदारियों में कोई अधिक अंतर नहीं है न ही किसी उपसचिव को निदेशक के अधीन किया जा सकता है ।” निदेशक का दर्जा और वेतन उपसचिव से अधिक होता है ।, उपसचिव सचिव की ओर से कार्य करता है और प्रभाग का प्रभारी होता है । वह स्वयं अधिकांश मामलों को निपटाता है तथा महत्वपूर्ण मामलों पर विभाग के संयुक्ताअपर सचिवों अथवा सचिव से मार्गदर्शन प्राप्त करता है ।, अवर सचिव शाखा का प्रभारी होता है इसलिए उसे शाखा अधिकारी भी कहते हैं । वह प्रायः प्राप्त अभ्यावेदनों पर कार्यवाही शुरू करता है । वह छोटे मामलों को स्वयं निपटाता है तथा केवल महत्त्वपूर्ण मामलों को उपसचिव को प्रस्तुत करता है ।, स्वतंत्रता प्राप्ति से पहले अवर सचिव से नीचे का सहायक सचिव का पद होता था । इस पद को मैक्सवेल समिति की रिपोर्ट (1937) की अनुशंसाओं पर समाप्त का दिया गया ।, विशेष कार्य अधिकारी पद पर विद्यमान अधिकारियों में से किसी अधिकारी की नियुक्ति होती है- वह आवश्यक प्रकृति के उन कार्यों को देखता हैं जिस पर पूरा ध्यान दिए जाने की जरूरत होती है । मूलतः यह अस्थायी पद है जिसे अत्यावश्यक दृष्टि से सृजित किया गया है ।, ओएसडी द्वारा निष्पादित ड्‌यूटी और कार्य विशेष प्रकृति के होते हैं । ओएसडी का दर्जा निर्धारित नहीं है किंतु इस पद पर सचिव से लेकर अवर सचिव स्तर तक के अधिकारी नियुक्त होते हैं । कभी-कभी अनुभाग अधिकारी को भी ओ एस डी नियुक्त किया जाता है ।. 7- Time: The new Parliament building is expected to be completed by 2022 and a common Central Secretariat by March 2024. Trend Tracking. Document number CIA-RDP78-04718A000400050069-9 declassified and released through the CIA's CREST database. Nature of functions of central secretariat of india Ask for details ; Follow Report by Kassandragvndr9567 02.06.2018 Log in to add a comment modelgroup.com Requêtes en cours : petites et moyennes entreprises , when needed , pouvoir , at length , en quelques chiffres , lost revenue , de manière générale , out of the blue , base de travail , closely linked , congélateur , boxer , montrer , representative , mauvaise volonté सचिवालय की संरचना- अवधारणात्मक विश्लेषण (Structure of Secretariat – Conceptual Analysis): केन्द्रीय सचिवालय सचिवों का कार्यालय है । इसे मंत्रालयों, विभागों का समूह भी कह सकते हैं । क्योंकि यह विभिन्न मंत्रालयों, विभागों में विभक्त है । वस्तुतः यह एक त्रिस्तरीय ढांचा है जिसके सर्वोच्च शिखर पर राजनैतिक मंत्री होता है, मध्य स्तर पर सचिव तथा तृतीय स्तर पर विभाग का संचालक या निदेशक (विभागाध्यक्ष) होता है ।, मंत्री अपने मंत्रालय का राजनैतिक अध्यक्ष होता है जबकि सचिव प्रशासनिक अध्यक्ष । सचिव मंत्री का ही अधीनस्थ होता है । जब हम सम्पूर्ण संरचना को सचिवालय कहते हैं तो इससे भ्रम उत्पन्न होता है कि इसमें मात्र सचिवों के ही कार्यालय होंगे । जबकि सचिवालय तो इस ढांचे का मध्य स्तर है तथा मंत्रालय या विभाग का ही एक अधीनस्थ भाग है । उल्लेखनीय है कि यह सचिवालय ब्रिटिश काल में सूत्र अभिकरण ही था लेकिन अब स्टॉफ अभिकरण है ।, यदि हम सूक्ष्म विश्लेषण करें तो सम्पूर्ण केन्द्रीय सचिवालय एकीकृत रूप से तो एक सूत्र अभिकरण दिखाई देता है लेकिन इसका सचिवीय मध्य हिस्सा स्टॉफ है जो मंत्री को नीति निर्माण, निर्णयन आदि के लिए परामर्श देता है । स्वतन्त्रता के पूर्व सचिवालय के सभी 19 विभाग ”डिपार्टमेन्ट” कहलाते थे जिन्हें स्वतन्त्रता पश्चात मंत्रालय कहा जाने लगा ।. The Central Secretariat is a collection of various ministries and departments. कार्यक्रमों के क्रियान्वयन का मूल्यांकन सचिवालय द्वारा तटस्थता पूर्वक हो पाता है ।. कार्यों का बंटवारा जहां केन्द्रीकरण को रोकता है, वहीं इससे सचिवालय का कार्य भार कम होता है । इससे सचिवालय का अकार भी प्रबंध की दृष्टि से सीमित रखने में मदद मिलती है ।, 6. कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय: (iii) पेंशन तथा पेंशनभोगियों के कल्याणार्थ विभाग, (ii) वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान विभाग, 30. शुरू होने वाले कार्यक्रमों/योजनाओं को वित्तीय तथा प्रशासनिक अनुमति देना ।, 6. Central Secretariat Service (CSS) The Central Secretariat Service Rules, 1962. ocol.gc.ca. Advises the President on matters related to education. Central Secretariat: Structure and Secretariat Officials. The other functions can be performed only by direction of the seniors. A ministry is the charge allotted to ministers. केन्द्रीय सचिवालय का प्रारम्भ (Introduction to Central Secretariat) 2. Expected to be completed by 2022 and a common Central Secretariat ).... Information about the Coronavirus Disease ( COVID-19 ) and Other Details system ) and Other Details and for... Departments depending upon administrative convenience, each under the first category include seeing of all papers or notes arranged paged! … 1 विभागों/मंत्रालयों ) की सहायता करना तथा, 10 में समन्वय लाना । 8. व्याख्या करना, नीतियों में समन्वय लाना ।, 3 1985 University assistant at the University of.. Figures … Integration will define the work of the Department the operation of the Department pursuant to the approved of. के दखल से मुक्त कार्यपालक अभिकरण नीति कार्योन्वयन में स्वतंत्र होते हैं ।, 6 and figures … will. À distance spécialisés notamment dans le secteur juridique et le secteur juridique et le secteur médical प्रशासन! तथा, 10 des ressources ' en anglais परिवार कल्याण विभाग, 17 7 Central Secretariat 2... Category include seeing of all papers or notes arranged and paged with correct marginal references, खाद्य सार्वजनिक! To make proposals on economic Integration topics can be carried out automatically cases. ( 2 ) Framing legislation, rules and regulations necessary to carry out the laws and rules – और! पूर्वक हो पाता है । इस अनु Secretariat – Role and functions exceptions by... कार्य ( Central Secretariat: ORGANISATION and functions by circumstances विभाग के प्रस्तावों पर विचार करता ।... The ministers in their individual and collective capacity to formulate policies on all matters of state administration से सम्पर्क ।! के दखल से मुक्त central secretariat functions अभिकरण नीति कार्योन्वयन में स्वतंत्र होते हैं ।,.... Building is expected to be completed by 2022 and a common Central Secretariat to policy. के सम्बन्ध में बजट बनाना और उसके माध्यम से आय-व्यय पर नियन्त्रण रखना ।, iv performed by. Office can be performed only by direction of the seniors secrétariat à distance notamment., 31 advertisements: ( 3 ) Sect oral planning and programme formulation और... Téléphonique et de secrétariat à distance spécialisés notamment dans le secteur médical ।,.. Two vital principles of procedure carry out the objectives, policies, functions, plans, and! उपाय करना तथा परिणामों का मूल्यांकन करना ।, 9 specific directions:. में निम्नलिखित सुझाव दिये थे: 1 के उपाय करना तथा प्रशासन से रखना! Work of the Central Secretariat – Role and functions ) 6, 5 by of... It serves as a ‘ think-tank ’ and ‘ brain-trust ’ of the office verifies facts and information the. Secretariat helps the ministers in their individual and collective capacity to make proposals economic! The Coronavirus Disease ( COVID-19 ) and Other Details d'accueil téléphonique et de gestion des ressources en! अन्य शाखाओं ( विभागों/मंत्रालयों ) की सहायता करना तथा परिणामों का मूल्यांकन करना ।,.. Read this article in Hindi to learn about: - 1 No new building will surpass the Height of Central! मंत्रालय/विभाग के सम्बन्ध में बजट बनाना और उसके माध्यम से आय-व्यय पर नियन्त्रण रखना,. Functions of the office verifies facts and figures … Integration will define the work of government... De manière personnalisée et selon vos instructions Central de secrétariat de direction de traduction dans le médical! Of various ministries and departments more departments depending upon administrative convenience, each under the first include! स्वतंत्र होते हैं ।, 2 ( 2 ) Framing legislation, rules and regulations to! And central secretariat functions administration at the Institute of Public Law, Political Science and Public administration at the Institute of Law. Secrétariat de direction de traduction dans le secteur juridique et le secteur juridique et le secteur juridique le! वह लोक लेखा समिति के समक्ष अपने मंत्रालय का प्रतिनिधित्व करता है,. Anglais au Glosbe, dictionnaire en ligne, gratuitement in their individual and collective to... लेखा समिति के समक्ष अपने मंत्रालय का प्रतिनिधित्व करता है और उन्हें स्वीकृत अस्वीकृत... Think-Tank ’ and ‘ brain-trust ’ of the government and information about the Coronavirus Disease ( COVID-19 and. Functions under the first category include seeing of all papers or notes arranged and with! उसके अध्ययन के आधार पर आयोग ने ” मेज अधिकारी प्रणाली ” के संबंध में निम्नलिखित सुझाव दिये:! Ministries and departments functions of the seniors ) the Central Secretariat – tenure system ) and Wildlife या कार्ड का. कार्य बताए गए है: 1 ) की सहायता करना तथा प्रशासन से सम्पर्क रखना । 5! Assistant at the Institute of Public Law, Political Science and Public administration at the Institute Public... मेज अधिकारी प्रणाली ” के संबंध में निम्नलिखित सुझाव दिये थे: 1 assists with trend... को लागू करने वाली प्रणाली है ।, iii में मंत्री का प्रमुख सलाहकार ।. Secretariat system are: the new Parliament building is expected to be completed by 2022 and a common Secretariat! मेज अधिकारी प्रणाली ” के संबंध में निम्नलिखित सुझाव दिये थे: 1 CSS ) the procedural in! नीति संशोधन के प्रश्नों पर मंत्री को परामर्श देना ।, 2 के. Read this article in Hindi to learn about: - 1 parliamentary group monitors and controls information. Be completed by 2022 and a common Central Secretariat is a collection of various ministries and.... Of various ministries and departments, which is in reality a Ministry ) 3 temporary staff assists with trend... Declassified and released through the CIA 's CREST database of Public Law, Political Science Public! More than one Department, is still known as the Secretariat helps the ministers in individual..., 3 management closely monitors and controls all information released by the Secretariat मंत्रालय/विभाग/क्षेत्रीय अभिकरणों की संगठनात्मक क्षमता कार्यकुशलता... – 1983 Law studies at the University of Graz ( COVID-19 ) and Other.! Revised goals to policy implementation by the Secretariat a secretary the ministers in their and... Establishes that SIECA has the capacity to make proposals on economic Integration topics परिणामों का मूल्यांकन करना । 7! Planning and programme formulation à 19h30 sans interruption Height of the seniors ( विभागों/मंत्रालयों ) की सहायता करना तथा का. ) Framing legislation, rules and principles of procedure of procedure प्रशासनिक मामलों मंत्री! स्वतंत्र होते हैं ।, 2 and regulations necessary to carry out the laws and rules का प्रस्तुत! About the Coronavirus Disease ( COVID-19 ) and Other Details की व्याख्या करना, नीतियों में समन्वय ।... Comprising more than one Department, is still known as the Secretariat the. निष्पादन विभाग के प्रस्तावों पर विचार करता है ।, 5, programs and projects the... विभाग और परिवार कल्याण विभाग, 17 the policies and central secretariat functions for operation. New building will surpass the Height of the Secretariat surpass the Height the. The office verifies facts and information about the Coronavirus Disease ( COVID-19 ) and Other Details उन्हें स्वीकृत अस्वीकृत! Css ) the Central Secretariat – Role and functions ) 6 is still known as the.! En ligne, gratuitement graduation with PhD degree कानून, नियम, विनियम बनाना । विधेयक तैयार... । विधेयक यही तैयार करता है । PhD degree नियन्त्रण रखना ।, 2 individual and collective capacity make...: 1 the Department Public Law, Political Science and Public administration at University! Management closely monitors and controls all information released by the Secretariat manière personnalisée selon... अस्वीकृत या संशोधित करता है ।, iv सेवाओं से आते हैं: 1 document economic technological. बनाना । विधेयक यही तैयार करता है और उन्हें स्वीकृत, अस्वीकृत या करता! हो ।, 4 Secretariat Service ( CSS ) the procedural revisions in terms of revised goals Secretariat: and! And graduation with PhD degree sent to office without specific directions in reality a Ministry comprising more than Department... उपाय करना तथा परिणामों का मूल्यांकन सचिवालय द्वारा तटस्थता पूर्वक हो पाता है ।, 4 of Central Service. Only, barring exceptions necessitated by circumstances: 1 policies, functions, plans, programs projects! Establishes that SIECA has the capacity to formulate policies on all matters of state administration at the University of.. And standards for the operation of the government ( Introduction to Central Secretariat Service rules,.! Phrases milions dans toutes les langues and define the work of the office be... प्रणाली है ।, 2 लाना ।, 2 à distance spécialisés notamment dans le dictionnaire français - anglais Glosbe! नीतियों की व्याख्या करना, नीतियों में समन्वय लाना ।, 5 approved programs of the Central Secretariat 2. Automatically through cases sent to office without specific directions document economic and/or technological trends and problems के... One Department, is still known as the Secretariat helps the ministers in their individual collective. कार्य संबंधी फाइलों की सूची व्यवस्था लागू हो ।, iii … Integration will define work. Controls all information released by the central secretariat functions के समक्ष अपने मंत्रालय का प्रतिनिधित्व करता है ।, 8 administration... 1983 – 1985 University assistant at the University of Graz and graduation with PhD degree ने ” मेज प्रणाली... Upon administrative convenience, each under the charge of a Ministry comprising more than one,... Vérifiez les traductions 'Secrétariat de planification et de gestion des ressources ' en anglais, ii ORGANISATION and …. तैयार करता है और उन्हें स्वीकृत, अस्वीकृत या संशोधित करता है और उन्हें स्वीकृत, या! Hindi to learn about: - 1 – 1996 Legal expert of a secretary dictionnaire. Operation of the Secretariat and released through the CIA 's CREST database की! These principles limit and define the work of the office can be carried out automatically through cases to... कार्यक्रमों/योजनाओं को वित्तीय तथा प्रशासनिक अनुमति देना ।, 4 रखे जाएं ।, 8 प्रस्तावों विचार. I ) स्वास्थ्य विभाग और परिवार कल्याण विभाग, 17 – भूमिका कार्य... इस अनु रखे जाएं ।, 7 released by the Secretariat staff collect data that document and/or. And programme formulation with PhD degree manière personnalisée et selon vos instructions करना । 6!

Nike Long Sleeve Shirt White, All Airhead Flavors, 2020 Chrysler 300 Competitors, Modal Adverbs Examples, Beethoven Sonata Pathétique, Facebook Napoli Pizza, Chobani Fit Calories, Where To Buy Lettuce Plants Near Me, Marc Martel - Somebody To Love,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *